Guldaan : Hindi Poetry Collection

by Kajol Chaturvedi & Prateek Ghule

image34

 गुलदान बस एक कविता संग्रह न होकर मानव भावनाओं का जीवंत संग्रह है |
पुस्तक में लिखी कवितायेँ सरल होते हुए भी सोचने को विवश करती हैं |
काजोल चतुर्वेदी एवं प्रतीक घुले की व्यक्तिगत डायरी से निकली

ये कवितायेँ एक आम छात्र जीवन की बड़ी सटीक दृष्य दिखाती है |
कैसे युवा मन अपनी उम्र की विभिन्न पड़ाव पर परिस्थितियों से

परिचित होता है ये बड़ी ख़ूबसूरती से दोनों लेखकों ने व्यक्त किया है |